Study Govts Result In

राजस्थान : 22 जनवरी को आधे दिन की सरकारी छुट्टी को लेकर स्कूलों में असमंजस, 2 बजे के बाद बच्चों को कैसे बुलाएं?

By Studygovtsresult - Jan 21,2024
राजस्थान : 22 जनवरी को आधे दिन की सरकारी छुट्टी को लेकर स्कूलों में असमंजस, 2 बजे के बाद बच्चों को कैसे बुलाएं?

राजस्थान : 22 जनवरी को आधे दिन की सरकारी छुट्टी को लेकर स्कूलों में असमंजस, 2 बजे के बाद बच्चों को कैसे बुलाएं? – Overview

Name of post :राजस्थान : 22 जनवरी को आधे दिन की सरकारी छुट्टी को लेकर स्कूलों में असमंजस, 2 बजे के बाद बच्चों को कैसे बुलाएं?
Location :india

राजस्थान : 22 जनवरी को आधे दिन की सरकारी छुट्टी को लेकर स्कूलों में असमंजस, 2 बजे के बाद बच्चों को कैसे बुलाएं? : School holiday on 22 January: अयोध्या में हो रहे रामलला प्राण प्रतिष्ठा समारोह के दौरान राजस्थान में आधे दिन की छुट्टी घोषित की गई है। दोपहर दो बजे तक सरकारी स्कूल बंद रहने से बच्चों को परेशानी होगी। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि क्या बच्चों को 2 बजे के बाद स्कूल आना होगा या नहीं। इसके अलावा निजी स्कूलों में भी छुट्टियों को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। सरकार को स्पष्ट करना चाहिए कि निजी स्कूलों पर छुट्टी लागू होगी या नहीं।

निजी स्कूल संचालक बोले- सरकार स्थिति स्पष्ट करे

निजी शिक्षण संस्थान भी 22 जनवरी को दोपहर 2 बजे तक छुट्टी को लेकर असमंजस की स्थिति में हैं। ज्यादातर निजी स्कूल सुबह 9 बजे खुलते हैं और दोपहर 2:30 बजे बंद हो जाते हैं। ऐसे में निजी स्कूल संचालक इस बात को लेकर चिंतित हैं कि क्या सिर्फ आधे घंटे के लिए बच्चों को बुलाना उचित होगा। स्कूल क्रांति संघ की प्रदेश अध्यक्ष हेमलता शर्मा का कहना है कि आधे दिन की छुट्टी समझ से परे है। सरकार को स्पष्ट करना चाहिए कि निजी स्कूलों में आधे दिन की छुट्टी लागू की जायेगी या नहीं। शर्मा ने कहा कि कई स्कूलों में दोपहर 1.30 बजे छुट्टियां खत्म हो जाती हैं। ऐसे में उन स्कूलों को पूरे दिन की छुट्टी देनी होगी।

बच्चों को पहले भी स्कूल बुलाया जा सकता है

स्कूल शिक्षा विभाग के शासन सचिव नवीन जैन का कहना है कि स्कूलों में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह का सीधा प्रसारण कर बच्चों को दोपहर 2 बजे से पहले बुलाया जा सकता है। समारोह समाप्त होने के बाद अध्ययन आयोजित किया जा सकता है। जैन ने कहा कि 22 जनवरी के कार्यक्रमों को लेकर सभी जिला शिक्षा अधिकारियों के साथ वीसी के माध्यम से कॉन्फ्रेंस की गई है। जहां स्मार्ट क्लास संचालित है, वहां समारोह का सीधा प्रसारण दिखाया जा सकता है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण): ये खबर लोक मान्यताओं पर आधारित है। इस खबर में शामिल सूचना और तथ्यों की सटीकता, संपूर्णता के लिए studygovtsresult उत्तरदायी नहीं है