Study Govts Result In

बिच्छू जन्म लेते ही आखिर अपनी मां को क्यों खा जाता है, जानें यहाँ | GK In Hindi General Knowledge

By Studygovtsresult - Jan 29,2024
बिच्छू जन्म लेते ही आखिर अपनी मां को क्यों खा जाता है, जानें यहाँ | GK In Hindi General Knowledge

बिच्छू जन्म लेते ही आखिर अपनी मां को क्यों खा जाता है, जानें यहाँ | GK In Hindi General Knowledge – Overview

Name of post :बिच्छू जन्म लेते ही आखिर अपनी मां को क्यों खा जाता है, जानें यहाँ | GK In Hindi General Knowledge
Location :india

बिच्छू जन्म लेते ही आखिर अपनी मां को क्यों खा जाता है, जानें यहाँ | GK In Hindi General Knowledge : आज तक आपने विभिन्न प्रकार के जानवरों के बारे में कई दिलचस्प कहानियाँ और उनसे जुड़े कुछ रोचक तथ्य सुने होंगे। आज हम आपको बिच्छू के बारे में बताएंगे, जो बेहद जहरीला और खतरनाक जीव है। बिच्छू जितना छोटा होता है उतना ही जहरीला और खतरनाक होता है। अगर यह किसी को डंक मार दे तो उसकी मौत भी हो सकती है! बिच्छू के डंक से निकलने वाले जहर से व्यक्ति लकवाग्रस्त भी हो सकता है। इसके अलावा आपको बता दें कि बिच्छू के जहर से कई तरह की दवाइयां भी बनाई जाती हैं।

IAS Interview question: IAS इंटरव्यू प्रश्न

बिच्छू जन्म लेते ही आखिर अपनी मां को क्यों खा जाता है?

उत्तर : इस प्रश्न का उत्तर सबसे अंत में दिया गया है।

सवाल–  सबसे अधिक दिन तक जीवित रहने वाला प्राणी कौन सा है?

उत्तर : कछुआ ।

 

सवाल :   ऐसा कौन सा पेड़ है जिस पर हम चढ़ नहीं सकते?

उत्तर : केले का पेड़ ।

 

सवाल–  वह कौन सा प्राणी है जो नर से मादा बन सकता है?

उत्तर : छिपकली और ऑक्टोपस ।

 

सवाल–   सबसे पहले नोटबंदी किस देश में हुई थी?

उत्तर : घाना देश में ।

 

सवाल–  मनुष्य का सबसे बड़ा दुश्मन कौन सा जीव है?

उत्तर : मच्छर ।

 

सवाल–   किस देश में सबसे ज्यादा फिल्में बनाई जाती है?

उत्तर :  माभारत में ।

 

सवाल :   किस देश में एक भी नदी नहीं है?

उत्तर : सउदी अरब में ।

 

सवाल–  किस देश में सबसे ज्यादा फांसी की सजा दी जाती है?

उत्तर : दक्षिण कोरिया में ।

 

बिच्छू एकमात्र ऐसा प्राणी है जो अपने बच्चों को जन्म देने के बाद मर जाता है। बिच्छू के बच्चे योनि मार्ग से पैदा नहीं होते हैं, बल्कि जब मादा बिच्छू बच्चों को जन्म देती है तो उसका पेट फट जाता है और बच्चे पैदा हो जाते हैं।

बिच्छू अपने जीवनकाल में केवल एक बार माँ बनती हैं। एक साथ कई बच्चों को जन्म देने के कारण उसका शरीर फट जाता है और वहां पैदा होने वाले बच्चे अपनी मृत मां के शरीर के अंगों को खाकर जीवित रहते हैं।

बिच्छू का जन्म कैसे होता है?

दरअसल, बिच्छू के बच्चे जैसे-जैसे मां के गर्भ में बड़े होते हैं, वैसे-वैसे वे अंदर से अपनी मां का पेट खाते रहते हैं और अंत में अपनी मां का पेट फाड़कर इस दुनिया में जन्म लेते हैं।

ऐसा माना जाता है कि बिच्छू के बच्चे जन्म के बाद अपनी मृत माँ का शरीर खाकर जीवित रहते हैं। मादा बिच्छू अपने बच्चों के लिए अपना जीवन बलिदान कर देती हैं। क्योंकि यह अन्य प्राणियों की तरह बच्चे पैदा करने में सक्षम नहीं है।

बिच्छू के बच्चे पैदा होते ही अपनी माँ की पीठ से चिपक जाते हैं और माँ का शरीर ही उनका भोजन बन जाता है।

बिच्छू के बच्चे तब तक अपनी माँ की पीठ से चिपके रहते हैं जब तक मादा बिच्छू मर नहीं जाती। मादा बिच्छू की मर के बाद उसके बच्चे स्वतंत्र रूप से रहते हैं।